कैप्टन ने दिए सिलेंडर विस्फोट की जांच व पीडितों को तुरंत सहायता के हुक्म..

पटियाला, 21 फरवरी ( देवकी नंदन सिंगला, विकास बांसल ) : गत रात्रि पटियाला के घनौर-शंभू रोड पर स्थित गांव संधर्सी में एक मटर के कारखाने में सिलेंडर विस्फोट के बाद अमोनिया गैस से 3 लोगों की मौत व 11 के घायल होने के बाद इस घटना को बहुत ही गंभीरता से लेते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पटियाला की इस अमोनिया गैस सिलेंडर विस्फोट की मजिस्ट्रेट जांच कराने व पीड़ितों के लिए एक पूर्व-अनुदान मुआवजा की देने की घोषणा की है।
मुख्यमंत्री कार्यालय के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि इस त्रासदी में निर्दोष लोगों की दुखद मौत व घायलों के हुए नुकसान के बारे में झटका और निराशा व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह ने मैजिस्ट्रेटरी जांच का निर्देश दिया है जो घटना के सभी पहलुओं में शामिल होगा और घटना की जिम्मेदारी को निर्धारित करेगा। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पटियाला के डिप्टी कमिश्नर को व्यक्तिगत रूप से घनौर-शंभू रोड पर संधर्सी गांव में खाद्य प्रसंस्करण इकाई में दुर्घटना स्थल पर बचाव और राहत कार्यों की देखरेख भी करने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने नागरिक और पुलिस प्रशासन को पीडिता को सभी संभव सहायता प्रदान करने और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की संयुक्त टीम और राष्ट्रीय उर्वरक लिमिटेड (एनएफएल) से रासायनिक विशेषज्ञों का समर्थन करने का निर्देश दिया है जो राहत कार्यों को जारी कर रहा है। मुख्यमंत्री ने मृतक के परिवारों के लिए प्रत्येक के लिए 1 लाख रुपये का अनुग्रह अनुदान देने की घोषणा भी की है। इसके अलावा सरकार के द्वारा पटियाला के राजिंदरा अस्पताल में भर्ती घायल लोगों के लिए नि: शुल्क इलाज करने की घोषणा भी की गई है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर पटियाला के डीसी साहिब ने अस्पताल का दौरा करके स्वास्थ्य सेवाओं का जायजा लेकर घायलों का हाल चाल जाना। इस दुर्घटना पर निर्दोष लोगों की मौत व घायल हुए लोगों के दुखद नुकसान के बारे में सदमे और दुःख व्यक्त करते करते हुए मुख्यमंत्री ने मृतक पीड़ितों के परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हुए घायलों के जल्द स्वास्थ्य होने की कामना की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.